दोस्ती एक अलग जिंदगी है

कृपया अपने मित्रों को भी Share करें

‘मित्रता दिवस Happy Friendship Day’ ; 5 August 2018



इस विश्व के तमाम रिश्तों में से एक अतुलनीय रिश्ता है दोस्ती । एक बेहतरीन Dosti Yaari से ज़्यादा खूबसूरत इस दुनिया में और कोई रिश्ता हो ही नहीं सकता, क्योंकि दोस्ती ही एक ऐसा रिश्ता है जिसे हम खुद चुनते हैं या यूँ कहा जाए की दोस्ती हमारे द्वारा चुना हुआ हमारा परिवार होता है। खून के रिश्तो में हमारे पास कोई विकल्प नहीं होता लेकिन दोस्ती सिर्फ विकल्पों पर आधारित होती है, यही कारण है कि dosti हमेशा इतनी पाक होती है। हमारे यारों के साथ बिताए हुए सारे पल हमारे दिल में हुबहू वैसे ही जीवित होते हैं जैसा की हमने उन्हें जिया है।

Mitrata-Diwas-Happy-Friendship-Day-5-August-2018




आज फ्रेंडशिप डे भी है इसलिए मैं आप सभी के साथ कुछ अहम बातें करना चाहती हूँ जिनके चलते आप अपने दोस्ती को और भी मजबूत बना सकते है।

दोस्ती पहले आती है:

जी हाँ जनाब Dosti ऐसा बंधन है जिस पर दुनिया का कोई ज़ोर नहीं चलता। चाहे जो हो जाए, कोई भी परिस्थिति हो, कोई भी कायदा हो या कोई समझौता ही क्यों ना हो, हमेशा याद रखें कि इन सब बातों से ऊपर दोस्ती होती है। क्योंकि मित्रता ही एक ऐसी चाबी है जो हमें इन सभी बंद दरवाजों को खोलने का उपाय बता सकती है। तो हमेशा हर चीज से ऊपर अपनी दोस्ती अथवा Friendship का चुनाव करना ना भूलें।

परिवर्तन भी जरूरी:

अक्सर ऐसा होता है कि लोग कहते हैं कि एक वक्त के बाद दोस्ती में बदलाव आ जाता है, लेकिन ऐसा नहीं होता तो असल में हमारी जिंदगी कैसे बदलती। दोस्ती तो बिल्कुल वैसी ही रहती है जैसी वह हुई थी तो इसलिए हमेशा अपने दोस्त में आए हुए परिवर्तन को स्वीकार करने की क्षमता रखें। जब भी आपको ऐसा आभास हो कि आपकी दोस्ती में कोई परिवर्तन आ रहा है तो, इस परिवर्तन को खुली बाहों से स्वीकार करें और अपने दोस्त से दूरी बढ़ाने के वजाय उसका सहारा बनें।

समझने का प्रयास करें:

एक मजबूत मित्रता दो लोगों के दरमियान उत्पन हुई परस्पर समझ का ही परिणाम होता है। यदि आप अपने दोस्त के हालातों को नहीं समझेंगे तो कौन समझेगा। तो इस समझदारी को बरकरार रखते हुए अपनी dosti को आप अमर बना सकते हैं। बस याद रहे कि ज्यादा समझदारी के चलते आपकी दोस्ती की मिठास कहीं गुम ना हो जाए तो आपके अंदाज में ही सही लेकिन अपने दोस्त को उसकी अहमियत का एहसास दिलाना कभी ना भूलें।

तालमेल बनाए रखना है ज़रूरी:

एक अच्छी Dosti में एक बेहतर तालमेल बहुत ज़्यादा आवश्यक होता है। यदि एक दोस्ती में कोई गलतफहमी आ जाती है तो उन्हें दूर करने के लिए दो मित्रों के बीच तालमेल होना वैसा ही होता है जैसे एक बंजर ज़मीन पर तेज़ बारिश का हो जाना। वहीं दूसरी ओर यदि यह तालमेल मौजूद नहीं होता है तो दोस्ती टूटने की कगार पर आ जाती है। इसलिए अपनी दोस्ती को सदा जीवित रखने के लिए हमेशा सामंजस्य बनाकर रखें ऐसा करने से दोस्ती में कभी कोई खटास नहीं आती और यदि आ भी जाए तो उसे दूर करने में जरा भी वक्त नहीं लगता।




आपको मित्रता दिवस (5 August 2018, Friendship Day) की अनंत शुभकामनाएँ। आपकी दोस्ती सदा सलामत रहे।

लेखिका:
वैदेही शर्मा

कृपया नीचे अपना Comment जरूर दें :

कृपया अपने मित्रों को भी Share करें