Latest Posts

See what's new

नई शिक्षा नीति 2019 – महत्त्वपूर्ण जानकारी

बच्चे देश का भविष्य होते हैं, इसलिए बच्चों को जितनी अच्छी शिक्षा प्राप्त होगी उतना ही ज्यादा हमारे देश का विकास होगा। वह शिक्षा ही होती है जो किसी विकासशील देश को विकसित बनाने में मदद करती है। बिना शिक्षा के एक अच्छे देश व अच्छे समाज की कल्पना भी नहीं की जा सकती।

हिंदी कविता – बेटी की दुनियां

“बेटी की दुनियां” बेटी की नजर से मम्मी की गोदी, चाँद का हिंडोलापापा के कंधे, मेरा आकाश वाला झूला। वो बचपन की दुनियां, हाँथी एक गुड़ियाबहुत सारे ही थे मेरे खेल और खिलौनेएक था बन्दर जो डफली बजाता थावो प्लास्टिक का था, पर मुझे खूब भाता था। था मेले में पापा ने गुब्बारा दिलायाजो

जिंदगी खूबसूरत है

” थोड़ा है थोड़े की जरुरत है जिंदगी फिर भी यंहा खूबसूरत है। “ फिल्म खट्टा मीठा (1978) का यह गीत आपने भी जरूर सुना होगा। जीवन में संतोष व स्थिरता को दर्शाता हुआ यह गीत बहुत खूबसूरत है। जी हाँ, जिंदगी खूबसूरत है सिर्फ जीवन को देखने व समझने का नजरिया बदलने की

हिंदी कविता – उदास आँखें

जीवन के सभी रंगों को समेटे हमेशा ही कुछ आंखे उदास सी रह जाती हैं। चेहरे पर हर भाव होता है उनके, पर जीवनधारा में बहते हुए, कभी कुछ ना कहते हुए एक ही प्रकार की उदास आंखों को आपने भी तो देखा होगा। अपने सपनों को सजाते हुए, आंखों से नहीं सिर्फ होंटो

हिंदी लघु कथा – कमला

सन 1990, तारकेश्वर दुबे भारतीय रेलवे में सीनियर सेक्शन इंजीनियर के पद से रिटायर हुए थे।रेलवे की नौकरी से सेवा निवृत होने के उपरांत उन्होंने घर में बच्चों को ट्युशन पढ़ाने का जिम्मा संभाला। हालांकि तारकेश्वर जी की पत्नी ‘कमला’ ये नहीं चाहती थी कि उनके पति एक लंबी सरकारी नौकरी करने के बाद

हिंदी कविता – ख़्वाहिश

कविता शीर्षक – ख़्वाहिश मित्र है तू भी मेरा, तुझे मिलने आऊँगा,वादा सा कर बैठा, क्या वह होगा, उस तरह का,जो ख्याबों में तराशा है, या फिर इस के उल्ट। क्या वह मुझे पहचान लेगा, या फिर मैं उसको, भोलपन, बेख़बर, कही सहपाठियों की बातें।उसको मेरी बचपन की, मिलने की बेताबी,क्या उसे पता होगा,

भारत में ऑडियो बुक्स के भविष्य पर चर्चा

जैसा कि हम जानते हैं, ऑडियो बुक्स वर्तमान परिपेक्ष्य में कोई नया नाम नहीं है। इस समय आधुनिक भारत में लगभग हर व्यक्ति ऑडियो बुक्स से किसी न किसी रूप में परिचित है। खासकर युवा वर्ग के लिए यह एक नया ट्रेंड बनता जा रहा है। आजकल स्मार्टफोन हर व्यक्ति के लिए सुलभ हो

उच्च रक्तचाप – हाई बीपी की समस्या

क्या है रक्तचाप ? रक्तचाप वो बल है जो ह्रदय की हर एक धड़कन के साथ रक्त वाहिकाओं (blood vessels) की दीवारों पर पड़ता है। रक्तचाप की इस क्रिया से हमारे पूरे शरीर को रक्त पहुँचाने में सहायता मिलती है। अपने रक्तचाप को कैसे मांपें ? आज के समय में बड़ी आसानी से आप

हिंदी कविता – पार

कविता शीर्षक – पार जाऊंगा मैं मल्लाह बनकर, सात समुद्रों को पार कर कर। महकते सुबह की झलक बनकर, खड़ जाऊंगा मैं, पैरों पर, छाती तनकर। जाऊंगा मै, उसको मिलने की, आस कर कर, हुआ है मेरा, यारो ‘चाँद’ विदेशी। जाऊंगा मैं मल्लाह बनकर, सात समुद्रों को पार कर कर। रुलती ज़िंदगी के पन्ने

पर्यायवाची और समानार्थी शब्द

पर्यायवाची और समानार्थी शब्द में क्या अंतर है ? समानार्थी: वो शब्द जिनका अर्थ एक समान होता है उनको समानार्थी शब्द कहा जाता है।समानार्थी शब्दों को ही पर्यायवाची कहा जाता है, जहां पर्याय का अर्थ है ‘समान’ और वाची शब्द का अर्थ है ‘बोला जाने वाला’ अर्थात समान बोले जाने वाले शब्दों को ही