गूगल पर क्या सर्च ना करें ?

कृपया अपने मित्रों को भी Share करें

दोस्तों हम सभी जानते हैं की गूगल एक सर्च इंजन है। गूगल का कार्य है यूजर द्वारा पूछी गयी किसी क्वेरी का वाज़िब जवाब बतलाना। किन्तु क्या आप जानते हैं की गूगल सर्च इंजन में हमें किस प्रकार की क्वेरी को सर्च नहीं करना चाहिए ! मुझे मालूम है कि आप यह बात नहीं जानते; तो चलिए आज हम यह जान लेते हैं की Google Mein Kya Search Nahi Karna Chahiye ? यूँ तो गूगल आपके सवालों का जवाब देने के लिए ही बना है मगर फिर भी कुछ बातें ऐसी हैं जिनको हम गूगल पर ना पूछें तो बेहतर होगा।

एक समय था जब लोगों को कुछ जानकारियां चाहिए होती थी तो सबसे पहले वह किताबों को खंगाला करते थे पर आज इन्टरनेट के जरिये गूगल पर सर्च करके सभी जानकारियां प्राप्त कर लेते हैं। गूगल पर दुनियां एंव दुनियां के हर किस्से एवं कहानी की जानकारी मौजूद है; यहाँ तक की गूगल ऐसी जानकारियां भी सहज रखता है जो आम इंसान के लिए बहुत घातक साबित हो सकता है।

google-par-kya-search-nahi-karna-chahiye
वो बातें जिनको गूगल पर सर्च करने से आपको जेल भी हो सकती है !

एक अमेरिकी वेबसाइट के अनुसार गूगल पर कभी भी ऐसी चीजें या इस तरह की जानकारियां सर्च नहीं करनी चाहिए जो अनुचित हो। पखेरू पर आपको यहाँ वो बातें बताई जा रहीं हैं जिनको गूगल पर सर्च नहीं करना चाहिए। अगर आप गूगल पर सर्च करते हैं, तो आपको आने वाले समय में बड़ी मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। आज हमारे इस आर्टिकल से आप जानेंगे की आपको गूगल पर कैसी जानकारियों को सर्च करने से बचना चाहिए।

1 – बम या हथियार बनाने के बारें में:

गूगल पर अगर हम हथियारों के बारें में या उन्हें बनाने के बारें में सर्च करते है तो, सर्चिंग प्लेटफोर्म आपकी आई.पी एड्रेस के माध्यम से आपको ट्रैक कर लेता है। इतना ही नहीं ऐसी चीजें सर्च करने की वजह से आपको जेल भी जाना पड़ सकता है। इसलिए याद रहे ऐसी चीजों के बारें में सर्च करने से जितना बचा जा सकता है उतना बचिए, ताकि आप किसी भी तरह की प्रॉब्लम में ना आये।

2 – अपनी ई-मेल एंव अपना नाम:

अमेरिकी वेबसाइट की एक रिपोर्ट के अनुसार सबसे ज्यादा साइबर क्राइम ई-मेल के माध्यम से होता है। ऐसे में अगर हम गूगल पर अपना पर्सनल ई-मेल या अपनी जानकारियां सर्च करते है तो यह डेटा हैकर के पास जा सकता है। डेटा चोरी करने वाले सबसे पहले सभी की सर्च हिस्ट्री को ही हैक करते हैं एंव उनकी मदद से सामने वाली की पूरी जानकारी लेकर उन्हें ब्लैकमेल भी कर सकते हैं। इसलिए अपनी जानकारी भूलकर भी गूगल पर सर्च ना करें।

3 – ‘क्या करूं’ यह वर्ड भी गूगल पर सर्च करने से बचें:

यह दो वर्ड ‘क्या करूं’ कभी भी अपनी फैमिली के सामने गूगल पर सर्च ना करें।  यह सर्च करने पर गूगल कुछ ऐसे रिजल्ट्स दिखाता है, यह देखने के बाद आप शर्मिंदा हो सकते है। इसलिए गूगल पर यह शब्द सर्च करने से जरुर बचें।

4 – आत्महत्या के तरीके:

वैसे तो कोई भी समझदार इंसान ऐसी चीजें सर्च नहीं करते, फिर भी अगर कोई गलती से आत्महत्या के तरीके या इससे जुड़ी कोई जानकारी सर्च करता है तो उसे जेल जाना पड़ सकता है। क्योंकि गूगल ऐसे लोगों की सर्च हिस्ट्री सेव करता रहता है और उन्हें ट्रैक करता है जो आत्महत्या के बारें में सोच रहे है या उनसे जुड़ी चीजों को लगातार सर्च करते हैं। गूगल उनकी आई.पी के जरिये उसके नजदीकी पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट कर सकता है। अमेरिका में एक छात्र की जान गूगल के द्वारा बचाई गई है, गूगल ने उसकी सर्च हिस्ट्री को पब्लिक किया और उसके बाद उसके जानने वालों ने उस लड़के को समझाया।

5 – मेडिसिन एंव बीमारियों के लक्षणों के बारें में:

यह मेरा खुद का एक्सपीरियंस है कि किसी को भी गूगल या अन्य किसी भी सर्चिंग प्लेटफोर्म पर बिमारियों एंव मेडिसिन इत्यादि के बारें में सर्च नहीं करना चाहिए। आपको बता दें की आजकल तो हॉस्पिटल में भी लिखा होता है ‘गूगल से ज्यादा अपने डॉक्टर पर भरोसा करें’ और यह बहुत सही लिखा हुआ है। क्योंकि गूगल आपके मामूली से सर दर्द को भी ब्रेन ट्यूमर बना देगा और एक सर्वे में पाया गया है की जैसा हम सोचते हैं हमारा शरीर उसी तरह की प्रक्रिया करने लगता है। ऐसे में अगर बिमारियों के लक्षणों के बारें में पढ़ेंगे तो आपको आपके नोर्मल सर दर्द के लक्षण भी ब्रेन ट्यूमर से मिलते झूलते होंगे। इसलिए
भूलकर भी अपनी बिमारियों के बारें में गूगल पर सर्च ना करें।

6 – आकर्षित करने वाले विज्ञापनों से बचें:

गूगल एंव अनेक वेबसाइटों पर दिखाये गये आकर्षक विज्ञापन आपके डेटा को चोरी कर सकते हैं। जी हाँ, बहुत बार ऐसा होता है की हम ऐसे विज्ञापन पर विजिट कर जाते हैं जहाँ हमारी पूरी हिस्ट्री सेव हो जाती है और हैकर एंव अन्य डेटा चोरों को हमारी जानकारी मिल जाती है। उसके बाद हमें ना चाहते हुए भी ऐसे विज्ञापनों के मेसेज एंव नोटिफिकेशन आने लगते हैं जो हम देखना ही नहीं चाहते हैं।

7 – बच्चों से जुड़ा कोई गलत वीडियो या जानकारी:

भारतीय दंड सहिंता एंव अन्तराष्ट्रीय नियमों के अनुसार किसी को भी बच्चों के बारें में गलत तरह की जानकारियां सर्च करना एंव प्रचार करना दंडनीय अपराध है। ऐसे में अगर कोई गूगल या अन्य सर्च प्लेटफोर्म पर बच्चों से जुड़ी किसी भी गलत वीडियो या जानकारी को शेयर करता है या सर्च करता है तो उसपर कार्यवाही की जा सकती है।

मित्रों, ऊपर लिखे सभी 7 बिंदु हमें हमेशा याद रखना चाहिए और इनको भूल कर भी गूगल सर्च में कभी खोजने का प्रयास नहीं करना चाहिए। हो सकता है इन सात बिंदुओं के अलावा अन्य कई महत्वपूर्ण बातें हों जिनका उल्लेख हम यहाँ नहीं कर पाये। किन्तु हमने जिनते भी बिंदु को जिग्र किया है वो अत्यंत आवश्यक हैं। ऊपर लिखी सभी बातें हमारे जीवन से जुडी हैं अतः हमें अपने जीवन की समस्याओं से डटकर मुक़ाबला करना चाहिए। तकनीकि का उद्देश्य केवल आपको जानकारी देना नहीं अपितु आपको सुरक्षित रखना भी है।

लेखक:
अभिषेक मौर्या


कृपया अपने मित्रों को भी Share करें

Post A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *