Author Archive

विद्यार्थी और परीक्षा – कैसे करें परीक्षा की तयारी, किन बातों का ध्यान रखें विद्यार्थी

मेरे प्यारे विद्यार्थियों, शिक्षा सत्र 2017- 18 अपने समापन की ओर है और अगले सप्ताह से बोर्ड की परीक्षायें शुरू होने वाली हैं, परीक्षा को लेकर अक्सर विद्यार्थियों और अभिभावक परेशान नज़र आते हैं। इस स्थिति में अभिभावकों का चिंतित होने और उनका बच्चों के प्रति कर्तव्य निर्वाहन की जिम्मेदारी बढ़ जाती है। उनका

कम से कम इस सुंदर भारत को तो आ जाने दो

जब मैं बहुत अकेला होता हूँ, तो सोंचता हूँ। क्यों आखिर क्यों, लोग नहीं समझते आज के राजनीतिक रहस्यों को, और आपस में लड़ते हैं, झगड़ते हैं और अपना ही नुकसान करते हैं। राजनेता तो अपना उल्लू सीधा करना चाहते हैं, और लोगो को अपने इशारों की कठपुतली समझकर, झोंक देते है, उस आग

एंजल की तमन्ना है की, पतंग मेरी उड़ जाए – हिंदी कविता

दोस्तों इस कविता का सृजन मैंने अपनी बेटी के साथ पतंगबाजी का लुफ्त लेते समय किया है। मैं और मेरी 5 वर्ष 8 माह की बेटी “एंजल” जो इस समय KG कक्षा की छात्रा है, आज सर्दियों की छुट्टी का आनंद उठा रहे थे। एंजल की तमन्ना है की, पतंग मेरी उड़जाए, बादलों के

देखो नव संवत्सर है आया – हिन्दी कविता

देखो नव संवत्सर है आया, देखो नव संवत्सर है आया। अपने संग ये कई फुहारें कुहरे की है लाया।। बच्चे खुश हैं, देख धुंध कुहरे की ये कैसी ? पत्नी बोली ये धुंध नही, ये है सुगंध कुहरे की। आपस में यूँ बाते करते जब आवाज़ है आई मैंने भी बिस्तर पर नीचे से