हिंदी कविता – फनी तूफान

कृपया अपने मित्रों को भी Share करें

फनी तूफान

Fany-Toofan-Hindi-Poetry-Fany-Cyclone

फनी के फन को कुचलना है
ना देख इसे दहलना है
भले जोर-जोर से करे फूफ़कार
करे शोर भले यह बार-बार
हम सब भी खड़े हैं तैयार

करेंगे इसकी चुनौती को सहर्ष स्वीकार
अपनी हिम्मत है फौलाद
ना तोड़ पाएगा कोई तूफान
यह डाल-डाल तो हम पात-पात
करेंगे मुकाबला हम साथ-साथ

अपनी एकता को देख कर
हर संकट जाएगा दूर हट
हम बनेंगे एक दूसरे की ढाल
जिसे देख थम जाएगा काल

हर संकट का करेंगे मिलकर सामना
मुश्किल का रहेगा नाम ना
फनी के फन को कुचलना है
ना देख इसे हमें डरना है

भारत अपना है दिल अपनी जान
हम हिंदुस्तानी अपना हिंदुस्तान

लेखिका:
रीना कुमारी
तुपुदाना रांची झारखंड


कृपया अपने मित्रों को भी Share करें
कृपया नीचे अपना Comment जरूर दें :