हिंदी गीत – मैं शराबी नहीं

कृपया अपने मित्रों को भी Share करें

मैं शराबी नहीं , मैं शराबी नहीं
मगर थोड़ी पी लेने में , खराबी नहीं
मैं शराबी नहीं ।

कैसे भूलूँगा मैं उनकी प्यारी बातें
वो होंटों के सुर्ख , वो नशीली आँखें
हाल-ए दिल क्या है , उनको पता भी नहीं
मैं शराबी नहीं ।।

सितमगर नें मुझको , सताया है इतना
हंसा के मुझे फिर , रुलाया है कितना
क्या उन्हें प्यार मुझसे , ज़रा भी नहीं
मैं शराबी नहीं ।।

एकबार वो आकर , ज़रा मुस्कुरा दें
इस दर्द-ए दिल का , अब वो ही दवा दें
मिली उसकी सज़ा , जिसमें मेरी कोई खता भी नहीं
मैं शराबी नहीं ।।

लेखक:
रवि प्रकाश शर्मा


कृपया अपने मित्रों को भी Share करें
कृपया नीचे अपना Comment जरूर दें :