उम्मीद की किरण – हिंदी कविता

हिंदी कविता शीर्षक – “उम्मीद की किरण”




Umeed-Ki-Kiran-Kavita-हिंदी कविता उम्मीद की किरण

निराशा के घोर अंधेरे के बीच
उम्मीद की एक किरण झिलमिलाती है
वहीं किरण लौ फिर मसाल बन
जीवन को जगमगाती है

हे मानव हिम्मत ना हार
समस्या करे प्रहार पर प्रहार
खुशियां कदम चूमेगी तेरी
लक्ष्य पर नजर तू डाल

हर समस्या का समाधान
उसके आसपास ही होता है
हर दिन के बाद रात
रात के बाद सवेरा होता है

जीत हार तो जीवन में
धूप-छांव की तरह होता है
हार सबक सिखा जाता है
और जीत नई राह दिखा जाती है

रीना कुमारी
तुपुदाना, रांची झारखंड