सच्चे प्यार की तलाश होगी तब पूरी, जब साथी में दिखेंगी यह निशानियां

कृपया अपने मित्रों को भी Share करें

Kya Apko Bhi Hai Sachche Pyar Ki Talash ? आजकल की, भागदौड़ की जिंदगी में हर कोई पैसा कमाने के पीछे इस तरह से व्यस्त हो गया है, कि उसे अपनी सेहत और जिंदगी का ख्याल ही नहीं है। परंतु जब कभी भी उसे अकेलापन महसूस होता है, तो उसे ख्याल आता है कि काश उसे भी कोई प्यार करने वाला होता। हर किसी को प्यार की तलाश होती है; वह भी सच्चे प्यार की और सच्चा प्यार हर किसी को मिल पाना बहुत ही मुश्किल है। यह तो नसीब नसीब की बात है कि आप को सच्चा प्यार मिलता है या नहीं। बहुत ही खुश किस्मत होते हैं जिनको सच्चा प्यार मिल जाता है। वैसे तो हर किसी की जिंदगी में किसी न किसी ऐसे खास इंसान की एंट्री जरूर होती है जो उसकी जिंदगी को संवार दे और धीरे-धीरे वह इंसान अपने लिए बहुत ही खास बन जाये जिसके बिना आप अपनी जिंदगी के सफर के बारे में सोच भी नहीं सकते।

क्या आपको भी सच्चे प्यार की तलाश

पर सबसे खास बात यह होती है कि जिसे हम अपनी जिंदगी का सबसे अहम हिस्सा मानते हैं। क्या वह हमें अपनी जिंदगी का अहम हिस्सा मानता है?, क्या वह हमारे साथ अपनी जिंदगी बिताना चाहता है?, क्या वह अपनी जिंदगी हमारे लिए पूरी तरह से समर्पित करना चाहता है?। इस तरह के बहुत से सवाल हमारे मन में आते है। कई बार कुछ लोग इसलिए भी हमारे साथ जुड़ जाते हैं क्योंकि उन्हें अपनी जरूरतें पूरी करनी होती है। उन्हें हमारे साथ कोई खास लगाव नहीं होता है। परंतु सिर्फ अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए वह हमारे साथ लगाव रखने का दिखावा करते हैं।

वैसे मैं आपको बताना चाहती हूँ कि जिंदगी में हर किसी को किसी न किसी से एकबार सच्चा प्यार जरूर होता है। अब वह प्यार चाहे स्कूल टाइम पर हो, या कॉलेज के दिनों में हो, नौकरी करने के दौरान या और कभी भी हो। यहां तक कि कुछ लोगों को सच्चा प्यार शादी के बाद भी होता है। परंतु शादी के बाद अपने जीवनसाथी के अलावा किसी अन्य व्यक्ति से प्यार होना सही बात नहीं है। क्योंकि इससे सिर्फ आप की नहीं बल्कि आप से जुड़े कई लोगों की जिंदगी बर्बाद हो जाती है। शादी के बाद होने वाला प्यार, सच्चा प्यार नहीं सिर्फ हमारे मन का भटकाव है जिसे हम पहचान नहीं पाते और उस बहाव में बह जाते हैं।

प्यार एक ऐसा एहसास है जिसकी कोई उम्र और सीमा नहीं है, आपको प्यार कभी भी किसी से कहीं भी हो सकता है। और यही सच्चा प्यार जब किसी को एक बार किसी से हो जाता है और उसके दूर चले जाने पर वह दर्द, दिल के किसी कोने में दब कर रह जाता है। और यह दर्द सालों या फिर जिंदगी भर हमारे साथ रह जाता है।

पर कहते हैं ना कि जिसे आप सच्चा प्यार करते हैं उसको लेकर आपके मन में बहुत सारे डर भी रहते हैं। आपके मन में इस बात का डर रहता है कि कहीं वह आपको छोड़कर ना चला जाए, पता नहीं वह आपको सच्चा प्यार करता है या नहीं करता है। इसी से जुड़ी कुछ बातें आज मैं आपको बताने जा रही हूँ। अगर आपको सामने वाला सच्चा प्यार करता है तो उसके अंदर आपको यह खास बातें जरूर दिखाई देगी।

1- अगर आपका पार्टनर आपको सच्चा प्यार करता है तो सुबह उठते ही वह सबसे पहले आपको कॉल या मैसेज जरूर करेगा। क्योंकि हर कोई चाहता है कि उसके दिन की शुरुआत अपने सच्चे प्यार के नाम से हो।

2- अगर आपका पार्टनर आपसे सच्चा प्यार करता है और वह अपनी जिंदगी में बहुत व्यस्त है, तो भी वह आपके लिए कहीं से और किसी भी तरह से खास समय जरूर निकालेगा और वह खास समय आपके साथ जरूर व्यतीत करेगा।

3- आपका पार्टनर जब भी अपने दोस्तों के साथ या फिर आपके सहेलियों के साथ बैठेगा, तो हमेशा आपकी तारीफ करेगा, ना की आपकी बुराई। आप की खास बातें अपने दोस्तों को बताएगा कि आप में उसे क्या अच्छा लगता है।

4- सच्चा प्यार करने वाला कभी आपके शरीर को नहीं बल्कि आपके दिल, अपने मन और आपके व्यव्हार को पसंद करता है।

5- सच्चा प्यार वह होता है जो दुःख में आपके साथ हो और जीवन में हर कदम पर आपका मार्गदर्शन भी करता रहे।

6- आपको सच्चा प्यार करने वाला साथी न सिर्फ आप की इज़्ज़त करेगा अपितु वह आपके घर परिवार के बारे में भी कभी बुरा नहीं बोलेगा।

सबसे अहम बात यह है कि किसी भी रिश्ते की गहराई आप तभी नाप सकते हैं। जब आप यह देखें कि आपका पार्टनर आप पर कितना भरोसा करता है। इसलिए सच्चे प्यार की निशानी अगर आप मापना चाहते हैं तो आप इस तरह से माप सकते हैं कि आपका पार्टनर अपने से भी कहीं ज्यादा भरोसा आप पर करेगा। सच्चा प्यार एक आत्म-मिलन है शारीरिक-मिलन नहीं। क्योंकि शारीरिक-मिलन क्षण में भंग हो जाता है पर आत्म-मिलन सदा के लिए हैं। यही कारण है की जीवन कितना भी आगे क्यों न निकल जाये कभी न कभी हमारा सच्चा प्यार दिल को दस्तक दे ही जाता है क्योंकि वो हमारी आत्मा से जुड़ा होता है।

जरूरी बात कहूँगी, अगर जीवन में सच्चा प्यार हमें न मिल पाए तो हताश होने की जरूरत नहीं। मशहूर शायर निदा फ़ाज़ली जी ने क्या खूब लिखा है – ” कभी किसी को मुकम्मल जहाँ नहीं मिलता, कहीं ज़मीं कहीं आसमां नहीं मिलता।” इसलिए दोस्तों, अपने जीवनसाथी को बेहद प्यार कीजिये क्योंकि वही आपका सच्चा प्यार है जो आपके साथ हर पल, हर कदम पर है। असल में सच्चा प्यार साथ चलने और साथ निभाने का ही नाम है जिसे हम एक शब्द में जीवनसाथी कहते हैं।

लेखिका:
रचना शर्मा


कृपया अपने मित्रों को भी Share करें
कृपया नीचे अपना Comment जरूर दें :