Latest Posts

See what's new

तबलीग़ी पर मौलाना ज्ञान क्यों हावी ?

‘तबलीग़ी‘, यह शब्द बेहद सुन्दर है। तबलीग़ी का अर्थ होता है ‘अल्लाह‘ की बतायी बातों को लोगों तक पहुँचाना। अर्थात, जो बातें अल्लाह ने कही हैं उनकी बातों को लोगों तक जाकर प्रचारित करना और उन्हें धर्म ज्ञान देना। आप इसे सीधे शब्दों में कह सकते हैं अल्लाह के बतलाये ज्ञान को लोगों में

सच्ची कहानी – परिणाम

इस कहानी के पात्र वास्तविक नहीं है, लेकिन कहानी सच्च और जूठ का परदाफास करती है। जो हठ साधना है साधु संतो की, बहुत कठिन होती है, उन्हें कई दिन भूखे-प्यासे रहकर सत्य को सामने लाना पड़ता हैं। वो ऐसे काम कर जाते है जो उनकी दुनियाँ के ही बस की बात होती है,

जीवन दर्शन: आनंद एक खोज

20 मार्च से पूर्व हमारे पास वक़्त की बेहद कमी थी।फिर अचानक कुछ ऐसा हुआ कि सरकार ने घोषणा करते हुए 20 से 25 दिनों तक का लंबा वक़्त हमें दे दिया। वहज जानी पहचानी है जिसका नाम है ‘कोरोना’, एक चाइनीज महामारी। इस लंबे वक़्त को पाकर क्या आप उत्साहित हैं ?क्या आप

मज़दूर गाथा: लॉक डाउन, पलायन और हक़ीक़त

देश की राजधानी दिल्ली का कुल क्षेत्रफल 573 वर्ग मील है अर्थात 1,484 स्क्वायर किलोमीटर। जिसमें से 302 वर्ग मील भाग ग्रामीण और 270 वर्ग मील भाग शहरी माना जाता है। आँकड़े को प्रतिशत में बदलें तो करीब 52.71% हिस्सा ग्रामीण और 47.12% हिस्सा शहरी नज़र आता है। ध्यान रहे, 47.12% के शहरी हिस्से

ऑर्गेनिक ज़िन्दगी

श्री ‘कोरोना वायरस’ और सरकारी ‘लॉक डाउन’ के बीच फ़िलहाल मेरा समय बीत रहा है।सच कहूं तो लॉक डाउन मेरे जीवनशैली के अनुरूप है यानि मैं ज्यादा घुमक्कड़ प्रवृत्ति का नहीं हूँ। सामान्यतः मेरा मन बाहर कहीं तफ़रीश करने को करता ही नहीं, फिर वो चाहे शनिवार या रविवार की छुट्टी का दिन ही

बवाल-ए कोरोना: चिंता विमर्श

हाय रे कोरोना उर्फ़ कोविड-19, ई चाइना वाले कब से असली माल बनावे लागे बे ! इनकर डुप्लीकेट अउर नकली माल का सेहत पर आज तक कउनो गलत प्रभाव नाय पड़ा, मगर जबसे “कोरोना” नाम का असली आइटम बनावा है, साला..तबे से सबकर सेहत डांवां-डोल होई गा है। देखो भईया ‘जि-पिंग’ आप असली समान

निर्भया तुम जिंदा हो – हिंदी कविता

निर्भया के दोषियों को हुई फांसी…। यह खबर सुनते ही एक संवेदनशील पीड़ा, खुशी व सुकून की भावना एक साथ मन में उमड़ पड़ी, देर से ही सही किन्तु न्याय हुआ। जब-जब दोषियों की दया याचिका कोर्ट के समक्ष पेश की जाती और उनके वकील सारे कानूनी दांव पेंच लगाकर उन्हें बचाने में लग

कोरोना का रोना मत रोना – हिंदी कविता

हिंदी कविता – “कोरोना का रोना मत रोना” कोरोना का रोना मत रोना,मिलकर करो इस पर प्रहार।सावधानी बरतो सुरक्षित रहो, और करो इसका संहार। प्रिवेंशन इज बेटर देन क्योर,सावधानी रखो और हो जाओ श्योर।इस वायरस का होगा अंत,ढलेगी निशा और होगी भोर। मास्क का इस्तेमाल करो और,सैनिटाइजर का करो प्रयोग।सफाई का रखो ध्यान,कोरोना का

लघु कथा – बिरेंदर वैज्ञानिक

हर रोज की तरह राम अवतार अपने घर पर स्कूली बच्चों को ट्यूशन पढ़ा रहे थे। तभी अचानक द्वार पर एक व्यक्ति अपने 13 वर्षीय पुत्र के साथ हाज़िर होता है। द्वार पर पधारे अंजाने व्यक्ति को देखकर राम अवतार उससे सवाल करते हैं – जी आप कौन हैं ? व्यक्ति अपना परिचय देते

महिला दिवस – विशेषांक

8 मार्च का दिन पूरे विश्व मे ‘अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस‘ के रूप में मनाया जाता हैं। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस (international women’s day) सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक सभी क्षेत्रों में महिलाओं की उपलब्धियों को सम्मानित करने के लिए समर्पित है। महिला दिवस, महिलाओं के प्रति होते आये भेदभावों के खिलाफ व् वैश्विक विकास की